News Chowk

Hindi news (हिंदी समाचार) website, Latest Khabar, Breaking News in Hindi, World, Latest News in Hindi, Sports, business, film and Entertainment. न्यूज़ चौक पर पढ़ें ताजा समाचार देश और दुनिया से, जाने व्यापार, बॉलीवुड, खेल और राजनीति के ख़बरें

सद्गुरु जग्गी वासुदेव के सर्वश्रेष्ठ अनमोल विचार – SadhGuru Quotes In Hindi

1 min read

1. ध्यान करने से जब आपको यह अहसास होता है कि आपकी कई सारी सीमाएं हैं, और वो सब स्वयं आपकी बनाई हुई हैं, तभी आपके अंदर उन्हे तोड़ने की चाहत पैदा होगी।


2. ध्यान अपने अस्तित्व की खूबसूरती को जानने का एक तरीका है।


3. असल में ध्यान का अर्थ है, अनुभव के स्तर पर यह एहसास होना कि आप कोई अलग इकाई नहीं हैं – आप एक ब्रह्मांड हैं।


4. ध्यान कोई कार्य नहीं, एक गुण है।


5. ध्यान का अर्थ है, अपने भीतर नए आयाम जागृत करना।


6. ध्यान का अर्थ यह नहीं है कि आपको अपने जीवन में हर क्षण मुस्कुराते रहना होगा, बल्कि यह सीखना है कि आपकी हड्डियां भी मुस्कुराने लगें।


7. अगर आप अपने शरीर, दिमाग, ऊर्जा और भावनाओं को एक खास स्तर तक परिपक्व करते हैं, ध्यान अपने आप फलित होगा।


8. जब तक यहां आपका अस्तित्व केवल शरीर और मन के रूप में है, पीड़ा तो होगी ही, इससे बचा नहीं जा सकता। ध्यान का अर्थ है आपने शरीर और मन की सीमाओं से परे जाना।


9. जीवन का मूल उद्देश्य खिलने की उस सर्वोच्च अवस्था तक पहुंचना है, जहां तक पहुंचना संभव है। ध्यान खिलने के लिए खाद्य पदार्थ है।


10. ध्यान का अर्थ है पूरी तरह से बोध में स्थित होना। पूरी तरह से मुक्त होने का यह अकेला मार्ग है।


8 सूत्र आत्म ज्ञान के बारे में (8 Quotes In Hindi About Self-Realization By Sadhguru)

1. आत्मज्ञान उस सत्य का साक्षात्कार है, जो पहले से ही मौजूद है।


2. आत्मज्ञान का बीज हर प्राणी में मौजूद है। आत्मज्ञान कोई ऐसी चीज नहीं है जो बाहर से आती है। आत्मज्ञान सिर्फ एक बोध है।


3. आत्मज्ञान में कोई सुख नहीं होता, कोई पीड़ा नहीं होती – बस होता है एक बेनाम आनंद, परमानंद।


4. न तो किसी औरत को आत्मज्ञान मिल सकता है और न ही किसी पुरुष को। आत्मज्ञान की संभावना तभी बनती है जब आप लिंग भेद से ऊपर उठ जाते हैं।


5. एक देश के रूपांतरण के लिए ज्ञानोदय की जरूरत नहीं है – बस थोड़ी सी समझदारी और अपने आसपास रहने वाले हर इंसान के प्रति प्रेम की जरूरत है।


6. आत्मज्ञान का अर्थ है – जीवन के एक नए आयाम में प्रवेश करना। यह भौतिकता से परे का आयाम है।


7. आत्मज्ञान कोई बिग-बैंग धमाके की तरह नहीं होता है। यह निरंतर जारी रहने वाली प्रक्रिया है।


7 सूत्र स्वतंत्रता के बारे में (7 Independence Quotes In Hindi By Sadhguru)

1. आवश्यक जागरुकता के बिना स्वतंत्रता खतरनाक है।


2. पीड़ा के डर से आप जीवन को आधा अधूरा जीते हैं। जीवन को पूर्णता में जीने के लिए पीड़ा के डर से छुटकारा जरूरी है।


3. एक बार जब आपमें और आपकी विचार प्रक्रिया में एक दूरी आ जाती है, एक नई स्वतंत्रता जन्म लेती है। इस स्वतंत्रता के साथ एक नया बोध जागता है।


4. तनाव से मुक्त होने का एकमात्र तरीका ध्यान है, क्योंकि यह मन से परे का आयाम है। सारा तनाव और संघर्ष तो मन में है।


5. ध्यान का अर्थ है : अपने भीतर परम आज़ादी।


6. साधना चाहे कितनी भी साधारण हो, अगर आप इसे हर दिन करते हैं, तो धीरे-धीरे, कदम-दर-कदम, यह आपके भीतर एक नये स्‍तर की आज़ादी पैदा करती है।


7. दूसरों से आशाएं होने का मतलब है कि आप उनकी ज़िन्दगी ठीक करने की कोशिश कर रहे हैं। ऐसा न करें। अपना खुद का जीवन ठीक करें – यही आज़ादी है।


6 सूत्र आसनों के बारे में (6 Aasana Quotes By Sadhguru in Hindi)

1. अगर आप रूपांतरित होना चाहते हैं, तो सबसे बड़ा रूपांतरण शरीर में होना होगा – क्योंकि शरीर में दिमाग से कहीं बहुत अधिक याद्दाश्त होती है।


2. आसनों को अगर सही तरीके से किया जाए, तो हर आसन ऊर्जा की एक प्रक्रिया है।


3. अगर आप जागरूक होकर किसी एक आसन में रहते हैं, तो जैसे आप सोचते हैं, महसूस करते हैं और जीवन को अनुभव करते हैं, उसे यह बदल सकता है। हठ-योग यह कर सकता है।


4. गलत कारणों से योगाभ्यास करते हुए भी, अगर आप इसे सही तरीके से करते हैं, तब भी यह काम करता है।


5. कोई योगिक अभ्यास चाहे कितना भी सीधा और सरल क्यों न लगे, उसमें हमेशा एक आध्यात्मिक आयाम होता है।


6. आपके मस्तिष्क की गतिविधियां, आपके शरीर की केमेस्ट्री, यहां तक कि आपके वंशानुगत गुण भी योगाभ्यास से बदले जा सकते हैं।


7 सूत्र जीवन-ऊर्जा के बारे में (7 Life-Energy Quotes In Hindi By Sadhguru)

1. जब आप अपनी ऊर्जा-प्रणाली को बचे हुए कर्मों से मुक्त कर देते हैं, सिर्फ तभी आप अपनी नियति बदल सकते हैं। इसीलिए योग-क्रियाएं महत्वपूर्ण हैं।


2. अगर आप कोई योग करते हैं और वह आपके भीतर ऊर्जा-ढांचे को नहीं बदल देता, तो मैं कहूंगा कि आप उसमें वक्त बरबाद न करें।


3. जीवन-ऊर्जा डाल कर आप एक भौतिक रूप को ईश्वरीय शक्ति बना सकते हैं। यही देवी-देवताओं और यंत्रों के सृजन का विज्ञान है।


4. बढ़ती उम्र के साथ आपका भौतिक-शरीर बूढ़ा होता जाएगा। लेकिन यह जरूरी नहीं है कि आपका ऊर्जा-शरीर भी बूढ़ा हो- आप इसे वैसा ही रख सकते हैं, जैसा यह पैदा होने के समय था।


5. मेरा सपना है कि मैं सारे विश्व को ऊर्जा से प्रतिष्ठित करूँ। किसी भी इंसान को उपेक्षित और कम ऊर्जा वाले स्थानों में नहीं रहना चाहिए।


6. अगर आप अपने शरीर, मन, और भावनाओं को खुला रखते हैं तो आपका जीवन काफी अच्छा हो जाएगा। अगर आप अपनी ऊर्जा प्रणाली को खोलते हैं तो यह जादुई हो जाएगा।


7. हर चीज जो मैं जानता हूं, जो मेरे गुरु जानते थे, और जो संपूर्ण आध्यात्मिक परंपरा जानती थी, वह ध्‍यानलिंग में ऊर्जा के रूप में मौजूद है।


जीवन को गहराई में अनुभव करने के 6 सूत्र (Top 6 Quotes About Life In Hindi By Sadhguru)

1. आपका जीवन और आप इसे कैसे अनुभव करते हैं – यह सब पूरी तरह से आपकी रचना है। जब यह बात आपको पूरी तरह समझ आ जाती है, सिर्फ तभी आप बदलने के लिए तैयार होंगे।


2. योग में बड़े अनुभवों का केवल एक ही प्रयोजन होता है – आपको आध्यात्मिक राह पर कायम रखना।


3. चैतन्‍य को छूने, अनुभव करने, और जानने में जिस सबसे बड़ी बाधा का इंसान सामना करते है – वह है तर्क से ऊपर उठने की उनकी अनिच्छा।


4. इंसान की यह जन्‍मजात प्रकृति है कि वह जितना है उससे कुछ और ज्यादा अनुभव करना चाहता है। अगर हम किसी आध्यात्मिक प्रक्रिया को नहीं अपनाते, तो हर जगह नशीले पदार्थ मौजूद होंगे।


5. अगर आप जागरूक होकर किसी एक आसन में रहते हैं, तो जैसे आप सोचते हैं, महसूस करते हैं और जीवन को अनुभव करते हैं, उसे यह बदल सकता है। हठ-योग यह कर सकता है।


6. आप अपने जीवन का अनुभव सिर्फ तभी गहरा कर सकते हैं, जब आप, किसी चीज से खुद की पहचान बनाए बिना, हर चीज के प्रति पूरी तरह खुले हों।


5 भक्ति सूत्र जानें सद्‌गुरु से (Best 5 Quotes By Sadhguru On Devotion In Hindi)

एक भक्त की अनुभव करने की क्षमता उस इंसान से बहुत बेहतर होती है, जो अपने बुद्धि का इस्तेमाल करके विश्लेषण करता है – क्योंकि भक्ति पूरे ब्रह्माण्ड को अपने आगोश में भरने का एक तरीका है।


जो शक्तिशाली लगता है, उसके आगे झुकना स्वाभाविक है। जो कमजोर और मूल्यहीन लगता है, उसके आगे झुकना ही महानता है। यही भक्ति है।


बुद्धि सत्य पर विजय पाना चाहती है। भक्ति सत्य को बस अपना लेती है।


जब आपका अंतरतम भक्ति से भीगा होता है, तब एक पत्थर का टुकड़ा भी ईश्वर बन जाता है।


मेरे जीवन का हर पहलू भक्ति से सराबोर है। भक्ति ऊपर बैठे किसी भगवान के प्रति नहीं, बल्कि हर उस चीज़ के प्रति जो मेरे आस-पास है।


योग के बारे में 5 सूत्र (Best 5 Quotes About Yoga In Hindi By Sadhguru)

योग का संबंध जीवन में सशक्‍त व सबल होकर जीने से है, यह सिर्फ सब्जियां खाने, खुद को तोड़ने-मरोड़ने, या अपनी आंखें बंद करना भर नहीं है।


योग का अर्थ है – जीवन की चक्रीय प्रक्रिया को तोड़कर इसे एक सीधी रेखा बनाना।


आपके मस्तिष्क की गतिविधियां, आपके शरीर की केमेस्ट्री, यहां तक कि आपके वंशानुगत गुण भी योगाभ्यास से बदले जा सकते हैं।


योग इस बारे में है कि हम अपनी पूंजी को शरीर, दिमाग, और भावनाओं से हटाकर अपनी अन्तरात्मा (जीव या प्राणों) में लगाएं – कल्पना से हटाकर वास्तविकता में लगाएं।


सच्ची खुशहाली को अनुभव करने का सिर्फ एक ही तरीका है – अपने भीतर की ओर मुड़ना। योग का यही अर्थ है – ऊपर नहीं, बाहर नहीं, बल्कि अंदर। बाहर निकलने की एकमात्र राह अंदर की ओर है।


7 जीवन सूत्र जो बदल दें आपकी जिंदगी (7 Life Changing Quotes In Hindi By Sadhguru)

जो अनिश्चितता से बचने की कोशिश करते हैं, वो संभावनाओं से भी चूक जाते हैं।


आप जहां भी हों, आपका जिस भी चीज़ से सामना हो, हर परिस्थिति में जो भी उत्तम है, उसे ले लें। तब जीवन सीखने का एक सिलसिला बन जाता है।


‘अच्छे’ लोगों ने दुनिया को सबसे ज्यादा नुकसान पहुंचाया है। हमें ‘अच्छे’ लोगों की जरूरत नहीं है। हमें खुशहाल और समझदार लोगों की जरूरत है।


आप जरा इस पर गौर करें कि आप काम के बीच छुट्टी क्यों लेना चाहते हैं। अगर आप कोई ऐसी चीज कर रहे हैं जिसकी आप वाकई परवाह करते हैं, तो क्या आप छुट्टी लेना चाहेंगे?


जब आपके ऊपर कोई महत्वपूर्ण जिम्मेदारी होती है, तो आपमें एक भीतरी ताकत होनी चाहिए, जिसे बाहरी परिस्थितियों से डराया-धमकाया न जा सके और न ही उसे बदला जा सके।


यह देखिए कि जिंदगी में आगे कैसे बढ़ना है। हरदम गाड़ी के पिछले शीशे में देखने से आप टकरा जाएंगे।


योग का संबंध जीवन में सशक्‍त व सबल होकर जीने से है, यह सिर्फ सब्जियां खाने, खुद को तोड़ने-मरोड़ने, या अपनी आंखें बंद करना भर नहीं है।


अपने मन में झांकने के 7 सरल सूत्र (7 Quotes About Looking Within By Sadhguru In Hindi)

आपका शरीर एक बड़ी छलांग लगा सकता है, आपकी उर्जाएं एक ऊंची उछाल ले सकती हैं, लेकिन मन हमेशा किश्तों में रूपांतरित होता है।


डर, गुस्सा, दुख, कुंठा, अवसाद, और हताशा सभी एक ऐसे मन की उपज हैं, जिसका नियंत्रण आपने अपने हाथ में नहीं लिया है।


चाहे वह आपका शरीर हो, आपका मन हो, या फिर आपकी जीवन ऊर्जा हो – आप इनका जितना ज्यादा इस्तेमाल करते हैं, ये उतने ही बेहतर होते जाते हैं।


एक बार जब आप और आपके मन की गतिविधियों के बीच एक दूरी आ जाती है, फिर मन जंजाल नहीं रह जाता। तब यह एक शानदार लय में आ जाता है; एक ज़बरदस्त संभावना बन जाता है।


जि़ंदगी चलाने के लिए बुद्धि एक शानदार साधन है। लेकिन साथ ही, यह एक घोर रूकावट भी है जो आपको जीवन के  एकत्व को अनुभव नहीं करने देती।


सृष्टि का स्रोत बहुत सूक्ष्म है। जब आप अपने शरीर और मन को शांत कर देते हैं, तभी यह बात करता है।

“आपको सद्गुरु जग्गी वासुदेव का सर्वश्रेष्ठ अनमोल विचार कैसा लगा हमे कमेंट्स बॉक्स में जरूर बतायें, यदि पसंद आया तो अपने मित्रो में व सोशल मीडिया पर जरूर शेयर करें। इसी तरह की अन्य जानकारी हिन्दी में पढ़ने के लिए आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी लाइक/फ़ॉलो कर सकते हैं।”

सिम्पी सिंह
संपादक – “न्यूज़ चौक
संस्थापक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी – डील टुडेज

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright NewsChowk © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.